Acha Insan Kaise Bane In Hindi, Top 10 Tips Hindi Me

Acha Insan Kaise Bane In Hindi - दोस्तों आज की हमारी इस आर्टिकल पोस्ट में  उन लोगो के लिए काफी हेल्प फुल साबित हो सकती हैजो की एक Acha Insan बनना चाहते है,तो मेरा मानना है की एक अच्छा Insan बनना बहुत ही जरुरी है, क्योकि अगर आप जीवन में कुछ भी अच्छा कर रहे हैं तो यह सबसे जरुरी है, कि आपको एक अच्छा इंसान बनना होगा।

जिंदगी में एक अच्छा व्यक्ति Insan हर उस काम को करता है जो एक सफल व्यक्ति करता है,एक Acha इंसान Life में कभी भी मेहनत करने से नहीं डरता और वो बिना कर्म के फल के चिंता करते हुवे निरंर्तर कार्य करते रहते  है और ना ही वह कभी अपने मौके को छोड़ता है। अगर आप एक अच्छे Insan  हो तो सफलता आपके कदम चूमेगी।

Acha-Insan-Kaise-Bane-In-Hindi
Acha-Insan-Kaise-Bane

Acha Insan Kaise Bane In Hindi, How To Become A Good Person 

1. गलतियों को माफ़ करना सीखे - Learn To Forgive Mistakes
किसी भी व्यक्ति इन्सान से गलती हो सकती है व कोई इन्सान कुछ गलत करता है तो उसे आप माफ़ करना जरूर से सीखे क्योकि एक अच्छा Insan Hamesha Maaf करना जानता है, कोई व्यक्ति से कुछ भी गलती हो जाता  है तो उस गलती की माफ़ी मांगता है और हमें उसे Maaf Kar Dena चाहिए लेकिन आपको पहले ये देखना है की जो माफी मांग रहा है वो कितने विनम्रता के साथ आपसे माफी मांग रहा है। तभी आप उसे माफ़ करे और एक अच्छा Insan बने व दुसरो को भी यही शिख दे।  

2. अन्य व्यक्ति की मदद करें - Help Other Person
किसी भी व्यक्ति का हमें Help करना सीखना ही चाहिए। दुसरो का हेल्प करने में हमें सभी व्यक्तिओ के नजरो में सम्मान प्राप्त मिलता है, और खुद को अच्छा अहसास होता है। आप सभी लोगों की हेल्प जरुर से  करें चाहे वह Children, Young People, Old Men, Poor या Rich ही क्यों ना हो। जब आप किसी की हेल्प करते हो न वो कुछ अलग Khushee Aur Dil Ko Sukun दिलाता है। अगर आपसे किसी का  भी हेल्प आपके तन से नहीं हो रहा है तो आप अपने  विचार, भाव से ही उनके दिल को सुकुन दीजिए। ये भी एक प्रकार का हेल्प करना ही होता है। 

3. सभी का सम्मान करना - Respecting Everyone
आपको एक अच्छा और बेहतर इंसान बनना है तो आपको किसी भी धर्म को नहीं मानना नहीं होगा, आपको सिर्फ Maanav Dharm Ko ही मानना होगा तब ही आप अच्छे इंसान बन सकते है। ऐसा मैं नहीं कहता लेकिन इस बात को स्वयं ईश्वर ने मनुष्य के कल्याण के लिए बतया है। अब बात आती है दुसरों का सम्मान करने कि तो आपको हर किसी को चाहे वह आपसे छोटा हो या फिर बड़ा, गरीब हो या व Insaan Chaahe Ameer क्यों ना हो।अगर आप दूसरों को सम्मान देते है व उनसे अच्छे स्वाभाव में बात करते है तो यह बात आपको बता देता है कि आप एक अच्छे Insaan हो। व सामने वाला भी आपसे अच्छा बातें करता है। 

4. घमण्ड कभी भी न करें - Never Boast
एक अच्छे इंसान की पहचान होती है कि वह Khud Par Ghamand कभी नहीं करता है। ईश्वर ने आपको भले ही दूसरों से ज्यादा अधिक धन-संपत्ति दे दी हो लेकिन आपको कभी भी उन सभी Cheejon Par Ghamand नहीं करना चाहिए। अगर ये सभी चीज अपने पाया है तो ये आपके हाथ से जा भी सकते है। बल्कि ये सभी चीज ईश्वर से आपको प्राप्त है Bhagavaan Ka Aadar करे की आपको या सब चीज दिया व इन सभी के लिए ईश्वर धन्यवाद करे। और आप अपनी किसी भी सामान वस्तु या ऐसी कोई चीज के लिए घमंड न करे तभी आप एक अच्छा इन्शान बन सकते है।  

5. झुठ नहीं बोलना चाहिए - Do Not Lie 
अगर आपकी लाइफ में चाहे कितने भी Mushibar Ka Samay क्यों ना आ जाएँ आप कभी भी झुठ मत बोले  और कभी भी Jhooth बोलने वालों लोगो की हेल्प न करें। ज्यादातर आप ऐसे व्यक्ति से कोई रिश्ता ही न रखिएँ जो हमेशा Jhoothबोलते रहते है और नहीं तो आप भी उनके Sangat Ke Kaaran Jhuth बोलने लग जायेंगे। जब आप हमेशा Jhooth बोलने लगेंगें तो आपके ऊपर कोई भी  विश्वास नहीं करेगा और आपसे कोई रिश्ता भी नहीं रखना चाहेगा। आप Poora Kosis Kare की आप सच का साथ दे झुठ चाहे वो कितना भी सच से आगे रहे लेकिन एक न एक दिन Sach Saamane Aa ही जाता है। क्योकि यही दुनिया का सच्चाई है। और इसे झुठलाया नहीं जा सकता है। 

6. किसी का बुरा नहीं करें - Do Not Hurt Anybody
किसी के बारें में बुरा न सोचे अगर आप सोचते है और Usake Baare Mein Poora करते है तो ये पाप है और आप पाप के Bhaageedaar Ban Jaate है। और अगर आपके साथ मिलकर कोई दूसरे के साथ बुरा करना चाहता है तो आपको उसका साथ बुल्कुल भी साथ नहीं देना चाहिए। और आप अपनी Life में किसी को भी धोखा नहीं दें किसी को भी दुःख  पहुचाएँ नहीं। मेरा मानना है की आपके पास जो भी कुछ है। आप उसी में खुश रहिये ज्यादा के चक्कर में Galat Kaam न  करे। और हमेशा कोसिस करे। क्योकि लोग कहते है की कोसिस करने वालो की कभी हार नहीं होती है। तो आप जरूर से एक अच्छा इंशान बने और दुसरो को भी प्रेणा दे और एक खुद भी प्रेणा बने।  

7. क्रोध नहीं करें - Do Not Be Angry
क्रोध एक ऐसा वाक्य है और जैसा इसका नाम है वैसा ही इसका काम है। कहते है की लोग क्रोध के कारण इंसान अपने आप को भूल जाता है और Krodh Mein Utaaval Hokar कुछ भी गलत काम कर जाता है। जससे उसे भयनक मुशीबते झेलनी पड़ सकती है। ऐसे में आप ठंढे दिमाग से काम ले और हर इंसान को अपने अन्दर छुपे क्रोध गुस्सा को बाहर Nikaal Fhek देना चाहिए। नहीं तो इसका बहुत ही भयानक प्रमाण Milta है। जैसे की महाभारत एक आपके लिए उदाहरण के तौर पर स्थित है। अहंकार और क्रोध के कारण ही महाभारत का युध हुवा। आपने अक्सर देखा होगा क्रोध करने वाले व्यक्ति Jo Har Samay Gusse के भाव से बोलते रहते है और कुछ ऐसे भी व्यक्ति  होते है जो Kuchh Achchhee Baat Bolate भी है तो वो हमको क्रोध की रूप में दिखाई देता है। अच्छे इंसान की पहचान होती है की वो कभी भी क्रोध गुस्सा तक नहीं करते आपको एक अच्छा इंसान बनना है 

8. जिम्मेदार बने - Be Responsible
आप सभी को कुछ न कुछ जिम्मेदारी होती है चाहे वह किसी भी Umr Ke Vyakti हो आपको अपनी उम्र के अनुसार हीअपनी जिम्मेदारी को समझ लेना चाहिए चाहि और एक जिम्मेदार व्यक्ति बनना मतलब अपने Parents, Siblings, Teachers, Neighbors, Children, Old Age आदि के साथ सही तरीके से बर्ताव करना चाहिए। आपको अपनी जीवन व्यापन करने के लिए आखिर क्यों न ही मेहनत करके कमाना भी पड़े जिससे आप अपने Parivaar Va Samaaj आदि को सेवा प्रदान कर सके। अच्छे इंसान बनने के लिए आपको अपनी जिम्मेदारी अपनी उम्र  के हिसाब से निभाना होता है। 

9. धार्मिक बनो - Be Religious
अगर आपको एक धार्मिक व्यक्ति भी बनना होगा तो Aap Besak Baniye जिससे आपके अन्दर जितनी भी बुरा विचार या सोच, बुरे काम आदि छुपा क्यों न हो वो सब आपके धार्मिक बनने पर वो सभी तुरंत्त समाप्त हो जाएगा।  इससे आपके अन्दर अच्छी विचार आते रहेंगे। जो Aapako Achchha Insan बनने में मदत करेगी।

10. दूसरों से स्वयं की तुलना न करे - Do Not Compare Yourself With Others
समझने का कुछ प्रयास जरूर से करें कि कुछ लोगों के Paas Ye Aapase Behatar है, पर कई लोगो के पास ये आपसे बहुतकुछ अच्छा नहीं है। जब हम दूसरों से खुद की तुलना कर के स्वयं को दुखी बना लेते है। हमें दुसरो के अपेक्षा कुछ ज्यादा Sochane Kee Aavashyakata नहीं है क्यों की खुद को दुसरो से तुलना करना एक कायर की तरह होता है, जो खुद को दूसरो से तुलना करते है। मेरा मानना है की आप जैसे है आप अपने जगह ठीक है। तो ऐसे में आपको और किया चाहिए। हा मगर Aap Apane Aap से खुश है तो आप किसी से भी अपने को कभी भी तुलना न करे और जो आप कर रहे है उसी में खुश रहना शिखे और एक Achchha Inshan बने। अगर आप अपने को दुसरो से तुलना करते हो तो Aap Tulana Karana Chhod दो। यह भी एक अच्छा इन्शान बनने से आपके बिच में रोड़ा डाल देता है।

तो यह आर्टिकल आपको कैसा लगा की एक Acha Insan Kaise Bane वो भी आपको हमने  In Hindi में बताया है। और अच्छा लगा तो जरूर से कमेंट करके हमें बताये। व इसे शेयर भी करे।






Previous
Next Post »